बर्ड फ्लू के बढ़ते खतरे को लेकर पंजाब सरकार का फैसला, उठाया ये बड़ा कदम

बर्ड फ्लू के बढ़ते खतरे को लेकर पंजाब सरकार का फैसला, उठाया ये बड़ा कदम

 चंडीगढ़ : पंजाब सरकार ने दूसरे राज्य में आने वाले मीट, मुर्गों और अंडों पर प्रतिबंध लगा दिया है। पंजाब सरकार ने यह फैसला हरियाणा की तरफ से पोल्ट्री पदार्थों व अंडों को पंजाब में डंप करने की सूचना के तहत किया है। हरियाणा में बर्ड फ्लू फैसले की सूचना है। हरियाणा सरकार ने पंचकूला के बरवाला में 1.66 लाख मुर्गे व मुर्गियों को मारने के आदेश दिए हैं। दूसरी ओर, पौंग डैम में 293 विदेशी पक्षी और बरनाला में 25 तोते मृत मिले।

पंजाब सरकार ने यह प्रतिबंध सात दिनों के लिए लगाया है। यह जानकारी पशुपालन विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी वीके जंजूआ ने दी। बता दें कि पंजाब में बर्ड फ्लू के कारण पंजाब में अंडे और पोल्‍ट्री उत्‍पादों की बिक्री बुरी तरह प्रभावित हुई है और इनकी दरें गिर गई हैं।

पशुपालन विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी वीके जंजुआ ने बताया कि पंजाब में अभी तक बर्ड फ्लू का कोई केस नहीं है। उन्होंने इस बात की पुष्टि की कि पंजाब में दूसरे राज्यों से आने वाले बर्ड, चिकन व अंडे को लाने पर रोक लगा दी गई है। यह रोक फिलहाल सात दिनों के लिए लगाई गई है। उसके बाद इसका रिव्यू किया जाएगा।

जानकारी के अनुसार, पंजाब सरकार ने यह कदम इसलिए उठाया है ताकि हरियाणा के किसान अपनी मुर्गियों को पंजाब में डंप करने की कोशिश में थे। हरियाणा सरकार ने बर्ड फ्लू के मद्देनजर संदिग्ध क्षेत्रों में मुर्गियों को मारने के आदेश दिए है। विभाग के डायरेक्टर डा. एचएस काहलो का कहना है कि पंजाब में सभी जिलों में कंट्रोल रूम बना दिया गया है। जहां पर एक नोडल आफिसर व रैपिड एक्शन फोर्स को तैनात किया गया है। वहीं, बर्ड फ्लू को लेकर पोल्ट्री फार्मों को मालिकों को भी जागरूक किया जा रहा है।

काहलो ने दोहराया कि पके हुए चिकन या अंडे से बर्ड फ्लू का कोई खतरा नहीं है। 70 डिग्री तापमान पर जाकर फ्लू मर जाता है, जबकि खाना 100 डिग्री पर जाकर ही पकता है। काहलो ने कहा कि अभी तक पंजाब में किसी भी पोल्ट्री फार्म में कोई भी बर्ड फ्लू इनफैक्टेड बर्ड नहीं मिला है।