पास्टर बलजिंदर ने खेला धर्म परिवर्तन का गंदा खेल : कैंसर ठीक करने के लिए हिन्दू लड़की को बनाया ईसाई. फिर मौत के बाद लड़की को जिंदा करने के लिए वसूले हज़ारों रुपए. परिवार ने जालंधर के एसएसपी को सौंपी शिकायत

पास्टर बलजिंदर ने खेला धर्म परिवर्तन का गंदा खेल : कैंसर ठीक करने के लिए हिन्दू लड़की को बनाया ईसाई. फिर मौत के बाद लड़की को जिंदा करने के लिए वसूले हज़ारों रुपए. परिवार ने जालंधर के एसएसपी को सौंपी शिकायत

 

 

जालंधर(अमन बग्गा) जालंधर के एसएसपी डॉ संदीप गर्ग को  मुंबई निवासी शुभम पंडित ने पास्टर बलजिंदर सिंह के खिलाफ शिकायत सौंपी है। इस मौके उन के साथ वरिष्ठ एडवोकेट सुतीक्ष्ण समरोल , हिन्दू नेता कुणाल कोहली, आशीष अरोड़ा मौजूद थे।

 शिकायत में शुभम ने बताया कि उसकी 17 वर्षीय छोटी बहन नंदनी पिछले कुछ समय से कैंसर से पीड़ित थी। हम मुंबई में बहुत गरीब परिवार से हैं हमारे पिता की कई साल पहले मृत्यु हो चुकी है।

शुभम पंडित ने बताया कि डॉक्टरों के मुताबिक उसकी बहन का इलाज नहीं हो सकता था। इसी परेशानी के चलते हम मुंबई में ही रहती सर्वना खेड़े के संपर्क में आए जो पास्टर बलजिंदर सिंह के लिए काम करती है, उसने हमसे मिलना जुलना शुरू कर दिया और पुरजोर यह विश्वास दिलाया कि पास्टर बलजिंदर सिंह कैंसर और हर बीमारी का इलाज करते हैं और मुर्दों को भी जिंदा करने की ताकत रखते हैं।

उन्होंने बताया कि सर्वना ने बलजिंदर सिंह से हमारी वीडियो कॉल से बात भी करवाई, जिसने यह दावा किया कि वह मेरी बहन नंदिनी का कैंसर जड़ से खत्म कर देंगे। उन्होंने हमें पंजाब में आने के लिए बुलाया।

बलजिंदर सिंह और सर्वना के कहने पर हम उनसे मिलने राजपूरा कुराली रोड़ न्यू चंडीगढ़ में गए। वहां के वलंटियरों और सिक्योरिटी गार्ड्स ने हमारी बलजिंदर सिंह से वीडियो कॉन्फ्रेंस पर बात करवाई, जिसमें हमें 10- 12 दिनों तक जालंधर के चर्च में मिलने को कहा गया।

 

उन्होंने अपॉइंटमेंट के नाम पर हम से ₹5000 ले लिए। कुछ दिनों बाद 0172- 5100 777 से हमें फोन कर हमें पास्टर बलजिंदर सिंह से मिलने के लिए 28 फरवरी 2021 को गांव ताजपुर नकोदर रोड जालंधर में स्थित चर्च में बुलाया गया। वहां सिक्योरिटी गार्ड ने नंदिनी का कैंसर ठीक करने के लिए 1 लाख रुपए की मांग की, जिस पर हमने अपनी माली हालात के बारे में बताया। बलजिंदर सिंह ने आगे कहा, यदि मैं और मेरी माताजी वीणा पंडित और मेरी बहन नंदनी धर्म परिवर्तन कर ईसाई बन जाए तो वह नंदिनी का कैंसर थोड़े ही पैसों में ठीक कर देंगे। उनके झांसे में आकर हमने उनकी बात मान ली और बलजिंदर सिंह और उनके वलंटियरों ने हमारा धर्म परिवर्तन करवा दिया और हम से 40 हजार रुपए भी ले लिए।

बलजिंदर सिंह ने कहा, फिर दवा के नाम पर कुछ प्रसाद खिलाया, होली वाटर पिलाया, मंत्र पढ़े और प्रेयर की। बलजिंदर सिंह ने कहा अब नंदिनी का कैंसर उसने निकाल कर ठीक कर दिया है। हमें उसने कहा कि हर रोज तीन बार प्रेयर करें और प्रभु यीशु मसीह को याद करें और रोजाना बाइबल पढ़ें। उसने हमें जादुई तेल भी दिया और कहा कि नंदिनी रोजाना यह तेल पिए और लगाए भी। उसने कहा कि कुछ ही दिनों में नंदिनी भागने दौड़ने लग जाएगी।

नंदिनी की तबीयत में कुछ सुधार ना आते हमने 24 मार्च 2021 को उसका सिटी स्कैन करवाया। जिसमें हमें पता चला कि नंदनी कि हालत बहुत बिगड़ चुकी है। उस वक्त हम मुंबई में ही थे और हमारी बात पास्टर बलजिंदर सिंह के वलंटियरों से हुई, जिसने हमें 11 अप्रैल 2021 को पास्टर बलजिंदर सिंह से स्पेशल प्रेयर करवाने की बात कही। हम नंदनी को लेकर 11अप्रैल को ताजपुर गांव में स्थित चर्च में पहुंचे। जहां बलजिंदर सिंह के वलंटियरों ने उनसे 5 हजार रुपए लेकर बलजिंदर सिंह से विडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से स्पैशल प्रेयर करवाई और बलजिंदर सिंह के कहने पर वलंटियरों द्वारा मंत्रो से इलाज के दौरान उसकी बहन की मृत्यु हो गई।

बात यहीं खत्म नहीं हुई बलजिंदर सिंह ने फिर Video कान्फ्रेसिंग के जरिए खुद वहां आकर उसकी बहन को जिंदा करने के नाम पर 50 हजार की मांग की। उन्होंने उस वक्त 30 हजार देकर बहन को जिंदा करने की बात कही तथा बाकी पैसा मुंबई जाकर देने को कहा। शुभम ने बताया कि ना तो मेरी बहन जिंदा हुई और हमसे पैसे भी ठग लिए।

उन्होंने एसएसपी से उपरोक्त दोषियों पर आईपीसी पर धारा 420,304 तथा अन्य प्रावधानों के अंतर्गत मामला दर्ज करने की मांग की है ताकि मेरी बहन को इंसाफ मिल सकें।

Dirty conversion game: Pastor Baljinder made Hindu girl a Christian to cure cancer