विजिलेंस के पास पहुंची मॉडल टाउन की अवैध बिल्डिंग की शिकायत, गिर सकती निगम के भृष्ट अधिकारियों पर गाज, कार्रवाई न हुई तो मामला पहुंचेगा हाईकोर्ट

विजिलेंस के पास पहुंची मॉडल टाउन की अवैध बिल्डिंग की शिकायत, गिर सकती निगम के भृष्ट अधिकारियों पर गाज, कार्रवाई न हुई तो मामला पहुंचेगा हाईकोर्ट

 

 

जालंधर( अमन बग्गा) जालंधर में अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई को लेकर नगर निगम काफी सुस्त है। अवैध बिल्डिंग की तरफ ध्यान देने की बात तो दूर, शिकायत के बाद भी निगम कोई कारवाई करने के लिए दिलचस्पी नही दिखा रहा।

अब इसके पीछे अधिकारियों पर या तो कोई प्रैशर है, या तो कोई रिश्वत मोटी डील हुई लग रही है। या तो निगम अधिकारी बेहद लापरवाह रवैया अपना रहे है। अब बड़ा सवाल ये है कि आखिर निगम अधिकारी सरकार से भारी भरकम तनख्वाह क्या दफ्तरों में बैठ कर एसी की हवा खाने की ले रहे है।

हाल ही में 16 मार्च को कांग्रेस नेता अरविंद शर्मा की तरफ से चंडीगढ़ विजिलेंस विभाग व जालंधर नगर निगम में शिकायत सौंपी गई हैै जिस में उन्होंने आरोप लगाया है कि जालंधर के मॉडल टाउन के शिवानी पार्क सामने पड़ते ‘ओप्पो शोरूम’ नाम की एक अवैध बिल्डिंग है।
उन्होंने कहा कि इस अनाधिकृत इमारत को गिराने के लिए पहले भी आर्डर भी हो चुके है लेकिन निगम अधिकारियों की तरफ से कोई कार्रवाई नही की गई।

शर्मा ने आरोप लगाया कि इस अवैध बिल्डिंग को डेमोलिश करने के आर्डर होने के बावजूद निगम अधिकारियों की तरफ से कोई सख्त कदम न उठाने के पीछे रिश्वतखोरी की आशंका है।

उन्होंने कहा कि अगर जल्द से जल्द कारवाई न हुई तो मानयोग हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया जाएगा।

उन्होंने मांग की है कि जल्द से जल्द इस अवैध निर्माण और कारवाई न करने वाले लापरवाह व भृष्ट अधिकारियों के खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन लिया जाए।