समाज, विज्ञान, नवाचार और अनुसंधान की सेवा के लिए प्रतिबद्ध पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय का अंतर्राष्ट्रीय साईमैगो रैंकिंग 2021 में उत्कृष्ट प्रदर्शन

समाज, विज्ञान, नवाचार और अनुसंधान की सेवा के लिए प्रतिबद्ध पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय का अंतर्राष्ट्रीय साईमैगो रैंकिंग 2021 में उत्कृष्ट प्रदर्शन

• पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय ने साईमैगो इंस्टिट्यूशन्स रैंकिंग 2021 में ‘भारत के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों’ में 53वीं रैंक प्राप्त किया

• कुलपति प्रो. राघवेन्द्र प्रसाद तिवारी ने अंतर्राष्ट्रीय रैंकिंग में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए शिक्षकों, अधिकारियों और विद्यार्थियों को बधाई दी

• साईमैगो इंस्टिट्यूशन्स रैंकिंग 2021 में भारत के नव स्थापित केंद्रीय विश्वविद्यालयों में सीयूपीबी अग्रणी

बठिंडा (अमन बग्गा): समाज, विज्ञान, नवाचार, अनुसंधान और पंजाब राज्य की सेवा हेतु प्रतिबद्ध और इस दिशा में निरंतर प्रयासरत पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय, बठिंडा (सीयूपीबी) ने साईमैगो इंस्टिट्यूशन्स रैंकिंग 2021 में ‘भारत के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों’ में 53वीं रैंक प्राप्त कर अपनी उत्कृष्टता का प्रमाण दिया है। साईमैगो सीएसआईसी, ग्रेनेडा विश्वविद्यालय, एक्स्ट्रीमाड्यूरा, कार्लोस III (मैड्रिड) और अल्काला डी हेनरेस का एक शोध समूह है, जो विज़ुअलाइज़ेशन तकनीकों के माध्यम से सूचना विश्लेषण, पुनःप्रस्तुतिकरण और पुनर्प्राप्ति के लिए समर्पित है। कुलपति प्रो. राघवेन्द्र प्रसाद तिवारी के नेतृत्व में पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय को यह प्रथम अंतरराष्ट्रीय सफलता मिली है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले सीयूपीबी ने एन.आई.आर.एफ.- 2020 रैंकिंग्स में 87वीं रैंक प्राप्त की है, जो कि 2009 में नवीन स्थापित केंद्रीय विश्वविद्यालयों में सर्वश्रेष्ठ रैंक है।

एसआईआर-2021 में साईमैगो ने दुनिया भर के 7500 से अधिक शैक्षणिक और अनुसंधान से संबंधित संस्थानों को तीन मापदंडों यथा अनुसंधान प्रदर्शन, नवाचार परिणाम और सामाजिक प्रभाव के आधार पर रैंकिंग प्रदान की गई है। सीयूपीबी ने इन मापदंडों के अंतर्गत अनुसंधान प्रदर्शन में 53वीं रैंक, नवाचार परिणाम में 27वीं रैंक और सामाजिक प्रभाव में 26वीं रैंक प्राप्त की है। विश्वविद्यालय को भारत में सभी शैक्षणिक और अनुसंधान-आधारित संस्थानों की श्रेणी में 81वां समग्र रैंक प्राप्त हुआ और भारत के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों की श्रेणी में 53वीं रैंक हासिल हुआ।

साईमैगो ने एसआईआर-2021 में ज्ञान के 19 विभिन्न व्यापक क्षेत्रों में सभी संस्थानों के वैज्ञानिक उत्पादन को प्रकाशित किया है। पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय ने रसायन विज्ञान में 6वीं रैंक, फार्माकोलॉजी, टॉक्सिकोलॉजी और फार्मसूटिक्स में 18वीं रैंक, पर्यावरण विज्ञान में 19वीं रैंक और ‘भौतिकी एवं खगोल विज्ञान में 30वीं रैंक के साथ इन विषय-वार रैंकिंग में देश भर में बेहतरीन प्रदर्शन दिया है। इसके अतिरिक्त इन विषय-वार रैंकिंग में विश्वविद्यालय को आयुर्विज्ञान में 47वीं रैंक, जैवरसायन, अनुवांशिकी एवं आण्विक आयुर्विज्ञान में 81 वीं रैंक और कृषि एवं जीवविज्ञान विषयों में 83वीं रैंक प्राप्त हुआ है।

कुलपति प्रो. राघवेन्द्र प्रसाद तिवारी ने सीयूपीबी के शिक्षकों, कर्मचारियों, शोधार्थियों और छात्रों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह गर्व की बात है कि पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय ‘साईमैगो इंस्टिट्यूशन्स रैंकिंग 2021’ में भारत के सभी नव स्थापित केंद्रीय विश्वविद्यालयों में अग्रणी रहा है। इस सफलता को संकाय और छात्रों की मेहनत को समर्पित करते हुए प्रो. तिवारी ने कहा कि यह उपलब्धि हमें नए मानक स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

गौरतलब है कि कुलपति प्रो. तिवारी के नेतृत्व में विश्वविद्यालय ने शिक्षा और अनुसंधान के क्षेत्र में नई ऊंचाइयों को प्राप्त किया है। विश्वविद्यालय ने एन.आई.आर.एफ.-2020 रैंकिंग्स में ‘भारत के शीर्ष 100 सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों’ की सूचि में अपना स्थान बनाया और साथ ही आउटलुक आईकेयर 2020 रैंकिंग में ‘भारत के शीर्ष 15 सर्वश्रेष्ठ केंद्रीय विश्वविद्यालयों’ में अपना स्थान बनाया है। एसआईआर-2021 में सीयूपीबी का प्रदर्शन वैज्ञानिक अनुसंधान और नवाचार में विश्वविद्यालय के सराहनीय कार्य की पुष्टि करता है।

एसआईआर-2021 में पंजाब के राज्य वित्त पोषित विश्वविद्यालयों, जैसेकि देश में विश्वविद्यालय श्रेणी के अंतर्गत पंजाब विश्वविद्यालय को 19वीं रैंक, गुरु नानक देव विश्वविद्यालय को 45वीं रैंक, पंजाबी विश्वविद्यालय को 81वीं रैंक, इंद्रकुमार गुजराल पंजाब तकनिकी विश्वविद्यालय को 99वीं रैंक और पंजाब कृषि विश्वविद्यालय को 107 वीं रैंक प्राप्त हुई है। राज्य में सबसे युवा सरकारी वित्त पोषित विश्वविद्यालय होने के बावजूद सीयूपीबी ने इस साईमैगो रैंकिंग में 53वीं रैंक प्राप्त करते हुए एक नवीन कीर्तिमान स्थापित किया है।

Committed to serve society, science, innovation and research, Punjab Central University excelled in International Symago Ranking 2021