9वीं और 11वीं की परीक्षा को लेकर CBSE ने स्कूलों को दिया यह निर्देश

9वीं और 11वीं की परीक्षा को लेकर CBSE ने स्कूलों को दिया यह निर्देश

नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने अपने अंतर्गत आने वाले सभी स्कूलों को 9वीं और 11वीं की परीक्षा जल्द से जल्द सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। बोर्ड ने कोविड-19 के मद्देनजर छात्रों की पढ़ाई के नुकसान का पता लगाने और उसके निराकरण के कदम उठाने का भी निर्देश दिया। इसके साथ-साथ CBSE ने नए शैक्षणिक सत्र की शुरुआत 1 अप्रैल से करने की भी सिफारिश की। CBSE ने परीक्षा के दौरान कोविड-19 बचाव नियमों का पूरी तरह पालन सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए।

CBSE के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने स्कूलों के प्रधानाचार्यों को लिखे एक पत्र में यह बातें कहीं। भारद्वाज ने कहा, ‘इन परीक्षाओं के जरिए छात्रों की पढ़ाई को हुए नुकसान का पता लगाने में भी मदद मिलेगी, जिनको दूर करने के लिए स्कूलों द्वारा नए शैक्षणिक सत्र में कदम उठाए जा सकते हैं। इस नुकसान की भरपाई के लिए विशेषतौर पर तैयार एक ब्रिज कोर्स का सहारा लिया जा सकता है।’

कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार की रोकथाम के लिए पिछले साल मार्च में लागू किए गए देशव्यापी लॉकडाउन के चलते कई महीने तक स्कूल बंद रहे थे। छात्रों ने ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से पढ़ाई की थी। भारद्वाज ने पत्र में कहा कि कक्षाएं या परीक्षाएं आयोजित करने के दौरान कोविड-19 से बचाव संबंधी उपायों का सख्ती से पालन किया जाए। साथ ही कहा गया कि यह उपयुक्त होगा कि राज्य सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए एक अप्रैल से 2021-22 शैक्षणिक सत्र की शुरुआत की जाए।