आंबेडकर जयंती पर कैप्टन अमरिंदर का बड़ा ऐलान, बोले- पंजाब में सभी स्कीमों में 30 प्रतिशत फंड अनुसूचित जातियों की भलाई के लिए खर्च होगा

आंबेडकर जयंती पर कैप्टन अमरिंदर का बड़ा ऐलान, बोले- पंजाब में सभी स्कीमों में 30 प्रतिशत फंड अनुसूचित जातियों की भलाई के लिए खर्च होगा

चंडीगढ़: पंजाब सरकार अपनी सभी योजनाओं में कम से कम 30 प्रतिशत फंड राज्य की अनुसूचित जाति की आबादी की भलाई के लिए खर्च करेगी। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज बाबा भीमराव आंबेडकर को श्रद्धाँजलि भेंट करते हुए दलित भाईचारे के विकास के लिए उठाए जाने वाले कई कदमों का ऐलान किया।

उन्होंने कहा कि डॉ. आंबेडकर को पहले भारतीय के तौर पर याद किया जाना चाहिए जिन्होंने दलित समाज के लिए बहुत कुछ किया।

मुख्यमंत्री ने सभी विभागों में एससी पदों का बैकलॉग पहल के आधार पर भरने काे कहा। उन्होंने सियाजीराओ गायकवाड़ द्वारा स्थापित स्कीम के अंतर्गत बाबा साहेब को दी गई बड़ोदा स्टेट स्कॉलरशिप स्कीम की तर्ज पर एस.सी. विद्यार्थियों के लिए पोस्ट-मैट्रिक ओवरसीज़ स्कॉलरशिप स्कीम की संभावनाएं तलाशने का भी वादा किया।

उन्होंने वित्तीय वर्ष 2022 के लिए ग्रामीण लिंक सडक़ों के लिए 500 करोड़ रुपए की लागत वाले विशेष प्रोजैक्ट का भी ऐलान किया। इस प्रोजैक्ट के अधीन अनुसूचित जातियों और अन्य गरीब वर्गों की आबादी में जहाँ इस समय पर लिंक रोड नहीं हैं वहां नए लिंक रोड बनाए जाएंगे। इस प्रोजैक्ट के द्वारा शमशान घाट और पूजा स्थल भी जोड़े जाएंगे।

Captain Amarinder’s big announcement on Ambedkar Jayanti said, 30% of the funds in Punjab will be spent for the welfare of scheduled castes.