जालंधर में रिश्वतखोर सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार, 5000 रुपए रिश्वत लेते विजिलेंस ने किया काबू

जालंधर में रिश्वतखोर सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार, 5000 रुपए रिश्वत लेते विजिलेंस ने किया काबू

जालंधर: जालंधर में विजिलेंस ब्यूरो की टीम ने एक सब-इंस्पेक्टर को गिरफ्तार किया है जो 5,000 रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया। दरअसल, हाजरी लगाने की एवज में सब-इंस्पेक्टर जगीर सिंह होम गार्ड से लगातार रिश्वत की मांग कर रहा था।

मामले संबंधित जानकारी देते हुए दलजिंदर सिंह ढिल्लों, सीनियर कप्तान पुलिस, विजिलेंस ब्यूरो ने बताया कि शिकायतकर्ता मेजर सिंह पंजाब होम गार्ड जालंधर में नौकरी करता है और इस समय थाना शाहकोट में तैनात है। मेजर सिंह जब ड्यूटी के बाद रेस्ट के लिए जाता था तब जगीर सिंह उसकी गैर हाजरी लगा देता था। मेजर सिंह ने इस संबंध में जब जगीर सिंह से बात की तब सब-इंस्पेक्टर ने उससे 5000 रुपए रिश्वत की मांग की।

दलजिंदर सिंह ने आगे बताया कि शिकायतकर्ता 1 मई 2021 से 31 मई 2021 तक थाना शाहकोट में ड्यूटी पर उपस्थित था, लेकिन सब इंस्पेक्टर जगीर सिंह ने उसकी गैरहाजरी लगाई और वापसी के लिए कहा कि वह लिखती बयान दे। लेकिन शिकायतकर्ता ने कोई भी लिखती बयान नहीं दिया जिसपर सब इंस्पेक्टर ने खुद ही बयान लिखकर मेजर सिंह से दस्तखत करवा लिए। फिर जगीर ने मेजर सिंह को फोन करके कहा कि मई महीने की हाजरी पूरी करके उसने पूरी सैलरी अकाउंट में डलवा दी है यदि आगे उसे पूरी सैलरी चाहिए तो 5,000 रुपए रिश्वत देनी होगी।

इस पर शिकायतर्का ने बुधवार को पांच हजार रुपए देने का झूठा वायदा करके आ गया। मेजर सिंह की शिकायत पर विजिलेंस की टीम ने ट्रैप लगाकर सब-इंस्पेक्टर जगीर सिंह को 5000 रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया और मामले की जांच शुरु कर दी है।

Bribery sub-inspector arrested in Jalandhar, Vigilance caught taking bribe of Rs 5000