बड़ी खबरः इस महान हॉकी खिलाड़ी का 88 साल की उम्र में निधन, दिल का दौरा पड़ने से तोड़ा दम

बड़ी खबरः इस महान हॉकी खिलाड़ी का 88 साल की उम्र में निधन, दिल का दौरा पड़ने से तोड़ा दम

चंडीगढ़: एशियाई खेल 1958 के रजत पदक विजेता भारतीय हॉकी टीम के सदस्य बलबीर सिंह जूनियर का यहां 88 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। उनकी बेटी मनदीप सामरा ने यह जानकारी दी। उनके परिवार में पत्नी, बेटी और बेटा है। उनकी बेटी ने कहा, ‘मेरे पिता ने रविवार को तड़के दिल का दौरा पड़ने से दम तोड़ा।’ उनका बेटा कनाडा में है और कोरोना महामारी के कारण पिता के अंतिम संस्कार में भाग नहीं ले सका।

हॉकी इंडिया ने भी शोक जताया
हॉकी इंडिया ने भी बलबीर सिंह जूनियर के निधन पर शोक जताया है। हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्रो निंगोमबम ने कहा, ‘हॉकी इंडिया की ओर से मैं बलबीर सिंह जूनियर के परिवार को शोक जताता हूं। भारतीय हॉकी में उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा और हॉकी जगत उनके निधन से शोकाकुल है।’

1951 में भारतीय टीम में हुआ चयन
दो जून 1932 को जालंधर के संसारपुर में जन्मे बलबीर सिंह जूनियर छह वर्ष की उम्र से हॉकी खेलना सीखे। उनका 1951 में पहली बार भारतीय टीम में चयन हुआ। वह 1962 में भारतीय सेना से जुड़े और सेना की टीम के लिये खेलते रहे। वह 1984 में मेजर के पद से रिटायर होने के बाद चंडीगढ में बस गए थे। पंजाब के राज्यपाल और चंडीगढ केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासक वी पी सिंह बदनोर ने उनके निधन पर शोक जताया है।

Big news: this great hockey player dies at the age of 88, broken due to heart attack