प्लास्टिक मुक्त वातावरण पर HMV की उन्नत भारत अभियान टीम ने आयोजित किया जागरूकता कार्यक्रम

प्लास्टिक मुक्त वातावरण पर HMV की उन्नत भारत अभियान टीम ने आयोजित किया जागरूकता कार्यक्रम

जालंधर : हंसराज महिला महाविद्यालय, जालन्धर में प्राचार्या प्रो. डॉ. (श्रीमती) अजय सरीन के निर्देशन में गांव गिल्लां में ‘प्लास्टिक मुक्त वातावरण’ पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उन्नत भारत अभियान टीम ने गांववासियों को प्रोत्साहित किया कि वह प्लास्टिक का प्रयोग न करके वातावरण को प्लास्टिक मुक्त बनाएं। बॉटनी विभागाध्यक्षा तथा यूबीए की सदस्या डॉ. अंजना भाटिया ने गांव के लोगों को प्लास्टिक का प्रयोग करने के हानिकारक प्रभावों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि वातावरण प्रदूषित करने के साथ-साथ यह जानवरों के लिए भी बहुत हानिकारक है। जब प्लास्टिक फूड चेन में घूमता है तो इसके साथ जहरीले पदार्थ में फूड चेन का हिस्सा बनते हैं। 

गांववासियों को यह समझाया गया कि बदलाव उनके द्वारा ही लाया जा सकता है तथा हरेक व्यक्ति को प्लास्टिक का प्रयोग न करने की शपथ लेनी होगी। उन्हें प्लास्टिक के अतिरिक्त दूसरे पदार्थों जैसे कपड़े के थैले आदि का प्रयोग करने की सलाह दी गई। सरकारी स्कूल गिल्लां के विद्यार्थियों ने भी इस प्रोग्राम में भाग लिया। उन्होंने प्लास्टिक का प्रयोग न करने की शपथ ली। डॉ. अंजना भाटिया ने आर्गेनिक फार्मिंग व इससे होने वाले फायदों की भी जानकारी दी। उन्नत भारत अभियान की इंचार्ज डॉ. मीनाक्षी दुग्गल ने सरपंच श्रीमती बलविंदर कौर का धन्यवाद किया कि उन्होंने गांव के लोगों से रूबरू होने का अवसर प्रदान किया। डॉ. मीनाक्षी ने गांव के बच्चों से भी आग्रह किया कि वह प्लास्टिक मुक्त वातावरण बनाने के लिए आगे आएं। फिजिक्स विभाग के सहायक प्रोफेसर एवं यूबीए सदस्य श्री सुशील कुमार तथा श्री विधु वोहरा ने भी इस कार्यक्रम में भाग लिया। प्राचार्या प्रो. डॉ. (श्रीमती) अजय सरीन ने उन्नत भारत अभियान टीम के प्रयासों की सराहना की।