कोरोना महामारी से प्रभावित 8 अनाथ बच्चों के लिए वित्तीय सहायता मंजूर: DC घनश्याम थोरी

कोरोना महामारी से प्रभावित 8 अनाथ बच्चों के लिए वित्तीय सहायता मंजूर: DC घनश्याम थोरी

जालंधरः कोविड-19 महामारी से प्रभावित अनाथ बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए जिला प्रशासन की ओऱ से 8 पेंशन केसों को मंजूरी दे दी गई है। जोकि मासिक पेंशन वितरण के लिए सामाजिक सुरक्षा विभाग को भेज दिया गया है। इस संबंधी जानकारी देते हुए आज डीसी घनश्याम थोरी ने कहा कि महामारी के दौरान जिन बच्चों ने अपने माता-पिता को खो दिया है, उनकी जानकारी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा एकत्र की जा रही है ताकि उन्हें वित्तीय और अन्य आवश्यक सहायता प्रदान की जा सके। उन्होंने कहा कि न केवल मासिक पेंशन बल्कि उन्हें शिक्षा और प्रशिक्षण के बाद रोजगार सहायता भी मिल सकेगी।

इस बात की जानकारी देते हुए आज यहां जिला कार्यक्रम अधिकारी गुरमिंदर सिंह रंधावा ने बताया कि जिनके माता-पिता का निधन हो गया है वे इस पेंशन के लिए आवेदन कर सकते हैं। पात्र लाभार्थियों को मृत्यु प्रमाण पत्र, निवास का प्रमाण, आयु का प्रमाण और आधार कार्ड जमा करना होगा। अनुमोदन के बाद मामले पेंशन वितरण के लिए सामाजिक सुरक्षा विभाग को भेजे जाते हैं। उन्होंने आगे कहा कि आवेदन को आवश्यक दस्तावेजों के साथ आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, सीडीपीओ या सीधे डीपीओ को अग्रेषित किया जाना चाहिए। आगे की प्रक्रिया के लिए कार्यालय को भेजा जा सकता है।

रंधावा ने कहा कि इस योजना के तहत लाभार्थियों को उनकी पढ़ाई पूरी होने के बाद रोजगार के अवसरों में भी सहायता प्रदान की जाती है क्योंकि उनके नाम रोजगार सृजन विभाग में नौकरियों के लिए सूचीबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण अपनी आजीविका गंवाने वाले किसी भी परिवार की आश्रित पत्नी और नाबालिग बच्चे 1500 रुपये मासिक पेंशन के पात्र हैं।

डीसी ने सभी प्रभावित परिवारों और बच्चों से पेंशन के लिए आवेदन करने की अपील की और अधिकारियों को ऐसे मामलों का समय पर सत्यापन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया ताकि उन्हें जल्द से जल्द पेंशन और अन्य लाभों में सहायता मिल सके।

Administration approves financial assistance to 8 orphans affected by Corona epidemic: DC Ghanshyam Thori