स्टडी के बाद यूके में 2 साल का मिलेगा वर्क परमिट









जालंधरः भारतीय छात्रों को बड़ी राहत देते हुए ब्रिटेन ने अपने यहां पढ़ाई करने वाले विदेशी छात्रों के लिए पढ़ाई के बाद की नई वर्क वीजा पॉलिसी का ऐलान किया है। यूके के इस ऐलान से वहां पर पढ़ाई करने वाले अंतरराष्ट्रीय छात्रों को अपना करियर संवारने की दिशा में बड़ा कदम माना जा रहा है। ब्रिटेन ने अपने यहां की यूनिवर्सिटीज में पढ़ रहे विदेशी छात्रों के लिए वर्क वीजा की समय अवधि 2 साल के लिए बढ़ाया है।

इमीग्रेशन माहिर वकील गुरपाल सिंह उप्पल ने जानकारी दी कि ब्रेक्जिट के बाद विदेशी छात्रों की संख्या बढ़ाने के मद्देनजर प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की ओर से अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए पढ़ाई पूरी करने के बाद 2 साल का वर्क वीजा बढ़ाने को लेकर नई पॉलिसी लाने का ऐलान किया गया है। यह नई पॉलिसी 2020-21 में छात्रों के दाखिले के दौरान लॉन्च होगी।

क्यों बंद हुई थी योजना
इस योजना को 2012 में तत्कालीन ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा ने खत्म कर दिया था। अब इस कार्यक्रम को फिर से शुरू किया गया है ताकि विदेशी छात्रों की संख्या बढ़ाई जा सके। भारत के लिहाज से देखा जाए तो भारतीय छात्रों को इस नई पॉलिसी से काफी फायदा मिलेगा। नई पॉलिसी के आने के बाद ब्रिटेन में पढ़ाई पूरी करने के बाद छात्र वहां पर अगले 2 साल के लिए काम करने या करियर बनाने या फिर अपनी पसंद के अनुरूप काम करने का फैसला ले सकते हैं।

error: Content is protected !!