सैनिटाइजर के इस्तेमाल से जले महिला के हाथ, जानें क्या है वायरल हो रहे इस मामले की सच्चाई









नई दिल्ली: कोरोना वायरस एक महामारी की तरह फैल रहा है। दुनिया में सैकड़ों लोगों की जान इस अकेले वायरस ने लील ली है। लोग जिंदगी बचाने घरों में कैद हैं। अभी तक वायरस का कोई इलाज संभव नहीं हो पाया है। दुनियाभर के स्वास्थ्य संगठनों ने बचाव और साफ-सफाई को ही इसका इलाज बताया है। बार-बार हाथ धोने, मास्क पहनने की सलाह दी जा रही है। हाथों को सैनिटाइजर से साफ करने को कहा जा रहा है। इस बीच सोशल मीडिया पर सैनिटाइजर के इस्तेमाल से हाथ जलने की खबर सामने आई है। एक महिला के जले हाथों की तस्वीर वायरल हो रही है।

वायरल फेसबुक पोस्ट में मैसेज लिखा है, “यहां एक महिला ने अपनी बाहों पर सैनिटाइजर लगाया और खाना बनाने के लिए रसोई में चली गई। जैसे ही उसने चूल्हा जलाया उसके हाथ सैनिटाइजर के एल्कोहल की वजह से आग पकड़ गए।” दावे के साथ जले हाथों की एक तस्वीर भी शेयर की जा रही है।

क्या दावा किया जा रहा?

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि सैनिटाइज़र के कारण कोई भी आग पकड़ सकता है क्योंकि इसमें अल्कोहल की मात्रा अधिक होती है। कुछ चैनल ने महिलाओं को लॉक डाउन पर सैनेटाइजर इस्तेमाल न करने के टिप्स दिए। ये सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगे। कोरोना से जुड़ी ढेरों फेक खबरों के बीच ये बिल्कुल नया दावा है।

सच्चाई क्या है?

दरअसल डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने लोगों को कोरोनो वायरस संक्रमण के खिलाफ एहतियात के तौर पर हाथ सेनाइटिज करने की सलाह दी है। इस वायरल पोस्ट के बाद डॉक्टरों ने इस दावे को फर्जी बताया है। हमने गूगल रिवर्सच सर्च इमेज में इस तस्वीर को काफी पुराना और अन्य घटना से जुड़ा पाया। वायरल पोस्ट एक धोखा है। सैनिटाइजर में मौजूद एल्कोहल हाथों पर लगाने के बाद पूरी तरह गायब हो जाता है। एक बार हाथों के ऊपर रगड़ने के बाद सैनिटाइजर आग नहीं पकड़ता है। सैनिटाइजर से आग लगने से भी डॉक्टर ने इनकार किया है।

ये निकला नतीजा अब बात आती है वायरल तस्वीर की। तो हम आपको बता दें कि ये फोटो हमने गूगल सर्च में पाय़ा कि एक अन्य महिला की है जिसके हाथ जलने के बाद चमड़ी के बाल काटे गए थे। स्किन ग्राफ्टिंग एक सर्जिकल प्रक्रिया है जिसमें त्वचा को शरीर के एक हिस्से से हटाकर दूसरे में प्रत्यारोपण किया जाता है। ये तस्वीर उसी प्रक्रिया से जुड़ी है जिसे अब कोरोना वायरस से जोड़कर फर्जी कहानी के साथ वायरल किया जा रहा है। सैनिटाइजर से जुड़ी इस अफवाह पर बिल्कुल भरोसा न करें। समय समय पर अपने हाथ साफ करें। अगर हाथ धो नहीं सकते तो खाने-पीने से पहले किटाणु साफ करने के लिए सैनेटाइजर का इस्तेमाल करें। सैनेटाइजर बिल्कुल सेफ है।



error: Content is protected !!