आधार कार्ड बनवाने गई थी लड़की, हैवानों ने बंधक बनाकर एक महीने तक किया गैंगरेप









बैतूलः मध्य प्रदेश के बैतूल ज‍िले घटना सामने आई है जहां आधार कार्ड बनवाने शहर गई एक लड़की के साथ एक महीने तक गैंगरेप होता रहा। तीन लोगों ने पीड़िता को बंधक बनाकर एक महीने तक इस घिनौनी घटना को अंजाम दिय। बैतूल ज‍िले में 19 साल की लड़की के साथ यह हैवान‍ियत भरी घटना घटी। पीड़‍िता दसवीं तक पढ़ी है और इंदौर में जॉब करती है। पीड़‍िता थाना बोरदेही की रहने वाली है।

Image result for Gangrape

प्राप्त जानकारी के अनुसार, लड़की का आधार कार्ड गुम हो गया था जिसे नया बनवाने के लिए उसने अपने गांव के छोटे पवार नाम के लड़के को बोला था। छोटे पवार ने उसे 17 सितंबर को आमला बुला लिया और एक कमरा किराए पर लेकर उसमें रुकवा दिया। पीड़िता का कहना कि वह छोटे पवार को बार-बार बोलती रही क‍ि मेरा आधार कार्ड बनवा दे लेकिन वह टालता रहा। 9 अक्टूबर को करीब रात 9 बजे की बात है। छोटे पवार और राम डिगया सफेद कलर की स्कॉर्पियो में जबरदस्ती बैठाकर मुझे ले गए। फिर दोनों मुझे राम डिगया के खेत में ले गए। वहां दोनों ने जबरदस्ती मेरे साथ गलत काम क‍िया।

Image result for Gangrape

इस घटना में पीड़िता की हालत खराब हो गई तो उसे फिर कमरे पर छोड़ दिया। चार दिन बाद 13 अक्टूबर को पीड़िता को आमला के बोडखी ले गए और वहां मंगल यादव नाम के तीसरे आरोपी ने रेप किया। पीड़िता का कहना है कि आरोपियों ने उससे एक लेटर भी लिखवाया कि अगर मेरी मौत हो जाए तो उसके लिए मेरे चाचा-चाची जिम्मेदार होंगे। जब परिजनों को इस बात की सूचना मिली क‍ि उनकी लड़की 1 महीने से आमला में है तो वे उसे लेने पहुंचे। तब उन्हें पता चला कि उनकी लड़की के साथ इस तरह की घटना घटी है। परिजनों ने इसकी शिकायत आमला पुलिस थाने में की है।

Image result for Gangrape

पुलिस ने आरोपी छोटे पवार, राम और मंगल यादव के खिलाफ रेप का मामला दर्ज कर पीड़िता का मेडिकल कराकर जांच शुरू कर दी है।

error: Content is protected !!