शर्मनाक! भूखे पेट को भरने के लिए बच्चें को खानी पड़ी मिट्टी, दुखी मां बोली- अब नहीं पाल सकती









नई दिल्ली: केरल में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे जान आपका दिल दहल जाएगा। गरीबी के कारण एक मां अपने बच्चों का पेट भरने में इतना असमर्थ हो गई कि उसने सरकार से कहा कि वो अब अपने बच्चों को नहीं पाल सकती। गरीबी के चलते हालात इतने बिगड़े कि उसके छह बच्चों को पेट भरने के भी लाले पड़ गए तो उसके बच्चे को मिट्टी और कीचड़ तक खानी पड़ी, ये किसी भी समाज के लिए बेहद ही शर्म की बात है।

मामला केरल के तिरुवनंतपुरम का है जहां के उपलामोदु पुल पर एक अस्थायी तंबू में ये महिला अपने छह बच्चों के साथ रह रही थी, ये जगह सचिवालय से सिर्फ एक किलोमीटर की दूरी पर है। बताया जा रहा है कि उसका पति शराबी है और वह अपने बच्चों को खाना नहीं खिला पा रही है। इस पत्र में उसने यह भी बताया था कि एक बच्चे ने तो भूख की वजह से मिट्टी भी खा लिया। महिला की गुहार ने पूरे राज्य को स्तब्ध कर दिया है।

यहां एक महिला ने भूख की वजह से अपने बच्चे को मिट्टी खाते देख राज्य सरकार से अपील की थी कि वह बच्चों को अपनी शरण में ले लें। श्रीदेवी की यह दयनीय कहानी को सुनकर कई लोग मदद का हाथ बढ़ा रहे हैं। महिला की यह गुहार तब लोगों के सामने आई, जब बाल कल्याण समिति ने चार बच्चों को अपने संरक्षण में ले लिया। इन बच्चों में दो लड़के हैं जो सात साल और पांच साल के हैं। वहीं दो लड़कियां हैं जो चार साल और दो साल की हैं। इसके बाद महिला सहित उसके दो छोटे बच्चों को, जो कुछ ही महीने के हैं, उन्हें राज्य द्वारा संचालित आश्रय गृह में भेज दिया गया है। तिरुवनंतपुरम के महापौर के श्रीकुमार ने महिला को निगम के एक कार्यालय में नौकरी भी दी है। निकाय यह सुनिश्चित करेगा कि महिला के बच्चों को शिक्षा से वंचित न होना पड़े।



error: Content is protected !!