मिड डे मील पकाने के लिए स्कूलों को मिले 8,500 से ज्यादा सिलेंडर चोरी, लकड़ी पर खाना बनाने को मजबूर विद्यालय

मिड डे मील पकाने के लिए स्कूलों को मिले 8,500 से ज्यादा सिलेंडर चोरी, लकड़ी पर खाना बनाने को मजबूर विद्यालय

प्रयागराजः प्रयागराज में इन दिनों स्कूली छात्र भोजन की समस्या की जूझ रहे है। खबर सामने आई है कि मिड डे मील पकाने के लिए स्कूलों को दिए गए साढ़े आठ हजार सिलेंडर चोरी हो चुके है। परिषदीय और राजकीय माध्यमिक विद्यालयों को मध्याह्न भोजन बनाने के लिए मिले 8528 सिलेंडर और 5135 चूल्हे चोरी हो गए है। सबसे ज्यादा शाहजहांपुर में चोरी हुई है जहां 1406 सिलेंडर और 703 चूल्हे गायब हो गए है।

मिड-डे मील प्राधिकरण के निदेशक की ओर से इस संबंधित प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर उनसे सप्ताह भर के भीतर इस संबंध में रिपोर्ट मांगी गई है। गैस सिलेंडर एवं चूल्हा चोरी होने के बाद अब विद्यालयों में लकड़ी पर खाना पकाया जा रहा है। इससे बच्चों को समय से भोजन मिलने में हुई परेशानी की रिपोर्ट मिलने के बाद जिलाधिकारियों से रिपोर्ट मांगी गई।

मिड-डे मील प्राधिकरण के निदेशक अब्दुल समद की ओर से प्रदेश के सभी डीएम को भेजे गए पत्र में सवाल किया है कि गैस सिलेंडर और गैस चूल्हा चोरी होने के बाद भी एफआईआर की प्रति उपलब्ध नहीं कराई गई। निदेशक ने अपने पत्र में कहा है कि इससे तो यह लगता है कि वास्तव में चोरी नहीं हुई है और संबंधित गैस कनेक्शन उपकरण गायब कर दिए गए। प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को उनके जिले में गायब गैस सिलेंडर और चूल्हे का विवरण भेजकर उनसे इस बारे में एक सप्ताह में रिपोर्ट मांगी गई है।