एडवोकेट लिटरेरी फोरम की और से HEAT 7 रेस्टोरेंट में श्री गुरु नानक देव जी के 550वें जन्मदिन को समर्पित आध्यात्मिक सेमिनार का किया गया आयोजन.आध्यात्मिक शिक्षक एवं एडवोकेट बीबी जसमीत कौर ने श्री गुरुनानक देव जी के जीवन पर की चर्चाएं









 

जालंधर(अमन बग्गा) एडवोकेट लिटरेरी फोरम की और से हीट 7 रेस्टोरेंट न्यू जवाहर नगर में श्री गुरु नानक देव जी के 550वें जन्मदिन को समर्पित एक सेमिनार का आयोजन किया गया।

इस मौके आध्यात्मिक शिक्षक एवं एडवोकेट बीबी जसमीत कौर ने सेमिनार में आये एडवोकेट लिटरेरी फोरम के वकीलों और न्यू जवाहर नगर के इलाकानिवासियो के साथ श्री गुरु नानक देव जी के जीवन के बारे में चर्चा की।

इस मौके एडवोकेट लिटरेरी फोरम की तरफ से श्री गुरुनानक देव जी को समर्पित साहित्य भी वितरण किया गया।

इस मौके बीबी जसमीत कौर ने बताया कि कलयुग में श्री गुरुनानक देव जी ने एक ओंकार मन्त्र दिया। उन्होंने कहा कि वाहेगुरु नाम बेअंत है। उन्होंने कहा कि ईश्वर एक है और हमे कलयुग में अधिक से अधिक परमात्मा की भक्ति करनी चाहिए।

इस मौके एडवोकेट लिटरेरी फोरम के कन्वीनर एडवोकेट नवजोत सिंह ने बताया कि श्री गुरुनानक देव जी मानवमात्र के गुरु है उन्होंने समाज मे भेेेदभाव ऊंचनीच आदि कई आडम्बर मिटाने पर जोर दिया

इस मौके एडवोकेट लिटरेरी फोरम की और से डॉ पल्लवी समरोल द्वारा बीबी जसमीत कौर स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

इस मौके एडवोकेट सुतीक्ष्ण समरोल ने बीबी जसमीत कौर , वकीलों और इलाका निवासियों का सेमिनार में पहुंचने पर आभार जताया।

उन्होंने कहा कि एडवोकेट लिटरेरी फोरम समय समय पर ऐसे सेमिनार आयोजित करके फोरम के कन्वीनर नवजोत सिंह हम सब को आमंत्रित करते रहते है और ऐसे सेमिनार में आकर हम खुद को सौभाग्य शाली मानते है क्यों कि ऐसे सेमिनार में आकर बहुत कुछ सीखने को मिलता है व हमारे ज्ञान की वृद्धि होती है। और इस का सारा श्रेय एडवोकेट नवजोत सिंह जी को जाता है। 

इस मौके अमरजीत सिंह गोलडी,परमिंदर सिंह गुरचरण सिंह अजय कोशिश राजिंदर कुमार मेहमी आशीष सेखड़ी अश्विनी भगत सुरजीत सिंह विशाल परुथी रिशु मोदगिल रमेश सोढ़ी जसप्रीत सिंह, सैंडी अनिल वर्मा,जसकरन सिंह सन्धु, कुलभूषण, गुरदीप सिंह भाटिया, एकांत नाहर, अरमिंदर सिंह,प्रिंस,निखिल शर्मा, नितिन गुलाटी,राकेश कुमार पाल,विजय आहूजा,परमजीत सिंह कंडा, रमेश हैप्पी,रोहित बमोत्रा,गुरशरण सिंह, पवन कुमार,सूरज प्रताप सिंह, बरिंदर,परमजीत सिंह कंडा आदि उपस्थित हुए।

error: Content is protected !!