सरकारी नौकरी पाने की लालच में बेटे ने उठाया खौफनाक कदम, कुल्हाड़ी से पिता के कर दिए तीन टुकड़े, मां ने भी दिया साथ









बुलंदशहरः बुलंदशहर जिले के बीबीनगर इलाके से रुह कपा देने वाला मामला सामने आया है। यहां सरकारी नौकरी की लालच में बेटे और पत्नी ने एक शख्स की हत्या कर दी और तीन टुकड़े कर कूड़े के ढेर में फेंक आए। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि इस अमानवीय और दर्दनाक घटना को उनके पत्नी और बेटे ने अंजाम दिया। हत्या की वजह सरकारी नौकरी और पेंशन बताई गई।

पुलिस की जांच में पता चला कि खाना खाते समय पत्नी ने कुल्हाड़ी से वार कर 59 साल के तेजराम का एक हाथ अलग कर दिया। फिर बेटे ने उनकी गर्दन उड़ा दी। शव का तीसरा टुकड़ा किया गया, जिससे पैककर फेंकने में आसानी हो। उसके बाद गांव के कूड़े के ढेर में तीनों टुकड़े फेंक दिए। ग्रामीणों ने रविवार सुबह शव मिलने की सूचना पुलिस को दी थी।

तेजराम बहुपुर आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय में चपरासी थे। अगले साल रिटायर होने वाले थे। तीन हिस्सों में कटा उनका शव रविवार को कूड़े के ढेर में मिला था। पुलिस को शुरुआती जांच में ही मामला संदिग्ध लगा। तेजराम की पत्नी मेमवती और उनके बेटे कपिल को पूछताछ के लिए थाने बुलाया गया। सख्ती करने पर दोनों ने वारदात का जो हाल सुनाया उसके बाद पुलिसवालों के भी रोंगटे खड़े हो गए।

error: Content is protected !!