Innocent Hearts में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ के संदेश के साथ वार्षिकोत्सव सम्पन्न









जालंधर (अमन बग्गा): बौरी मैमोरियल एजुकेशनल व मैडीकल ट्रस्ट के अतंर्गत इनोसेंट हार्ट्स स्कूल ग्रीन मॉडल टाऊन में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ के संदेश के साथ वार्षिक समारोह आयोजित किया गया। मुख्यातिथि के रूप में एम. एफ. फारूकी (आई.पी. एस, आई. जी.पी, जालन्धर) उपस्थित हुए। कार्यक्रम के आरंभ में मां सरस्वती के श्लोक के साथ ज्योति प्रज्जवलित की गई। तत्पश्चात बच्चों ने मधुर स्वर में मंत्रोच्चारण किए। इसके बाद बौरी मैमोरियल एजुकेशनल एंड मैडीकल ट्रस्ट के आरंभ व कार्यों के बारे में विस्तार से बताया गया।

ट्रस्ट के एग्जीक्यूटिव अफसर मनीष जोशी ने बताया कि किस प्रकार ट्रस्ट बच्चों के सर्वागीण विकास के लिए प्रयत्नशील है। सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान बच्चों ने शास्त्रीय-नृत्य तथा वैस्ट्रन-नृत्य का फ्यूजन प्रस्तुत किया। ‘रोके न रुकेंगे हम’ नृत्य को अत्यंत सराहा गया। वर्ष 2018-199 में 10वीं व 12वीं कक्षा में 90 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया। प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी 11वीं व 12वीं कक्षा के मेधावी विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति चैक भेंट किए गए। हरलीन को उसके संपूर्ण वार्षिक परिणाम को देखते हुए ‘स्टूडैंट ऑफ द इयर’ अवार्ड से सम्मानित किया गया। अर्चित व ध्रुव अग्रवाल की याद में उनके पिता दिनेश अग्रवाल ने 5,100/- की नकद राशि भेंट की। इस अवसर पर 435 बच्चों को पुरस्कार प्रदान किए गए। अंतर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय, राज्य व किाला स्तर पर विजेता बच्चों को पुरस्कृत किया गया।

ट्रस्ट के द्वारा ऐसे बच्चों को फीस में राहत भी दी जाती है। इस अवसर पर बौरी मैमोरियल ट्रस्ट के प्रैजीडैंट डा. रमेश सूद, ट्रस्टी संदीप जैन, सैक्रेटरी डा. अनूप बौरी, मैडीकल सैक्टरी डा. चंदर बौरी तथा मुख्यातिथि ने बच्चों को मंच पर पुरस्कृत किया। ट्रस्ट प्रत्येक वर्ष कारूरतमंद बच्चों को आर्थिक तौर पर मदद करता है। बच्चों की मदद के लिए रुपए 77,56,636/- की राशि खर्च की गई । इस अवसर पर स्कूल मैगजीन ‘न्यूका एंड व्यूका’ का भी विमोचन किया गया। मंच संचालन की भूमिका विद्यार्थियों ने अत्यंत खूबसूरती से निभाई। मुख्यातिथि एम.एफ. फारूकी ने बच्चों द्वारा प्रस्तुत रंगारंग कार्यक्रम की बहुत प्रशंसा की। उन्होंने अपने भाषण में कहा कि बौरी मैमोरियल ट्रस्ट द्वारा जो काम समूचे समाज के लिए किए जा रहे हैं, वे अति प्रशंसनीय है।



error: Content is protected !!