उच्च शिक्षण संस्थानों की ‘स्वच्छ परिसर’ रैंकिंग में HMV की हुई प्रशंसा

उच्च शिक्षण संस्थानों की ‘स्वच्छ परिसर’ रैंकिंग में HMV की हुई प्रशंसा

जालंधर (अमन बग्गा): केंद्रीय मानव संसाधन विभाग, नई दिल्ली द्वारा उच्च शिक्षण संस्थानों की स्वच्छ परिसर रैंकिंग के तीसरे चरण में हंसराज महिला महाविद्यालय की प्रशंसा की गई। स्वच्छता रैंकिंग के तीसरे चरण में 6900 संस्थानों ने भाग लिया तथा विभिन्न मानदण्डों पर उनका मूल्यांकन किया गया जैसे कैंपस की सफाई, कैंपस व रिहायशी क्षेत्र में कचरा प्रबंधन प्रणाली, वेस्ट निपटान व्यवस्था, सॉलिड व लिक्विड वेस्ट निपटान प्रबंधन, रेन वॉटर हारवैस्टिंग, कैंपस की स्वच्छता परंपरा तथा अक्षम लोगों के लिए उपलब्ध सुविधाएं आदि। 6900 संस्थानों में से केवल 330 संस्थानों को शार्टलिस्ट किया गया था जिसमें भारत के मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशांक द्वारा सम्मान समारोह की अध्यक्षता की गई।

सरीन ने कहा कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा स्वच्छतम कॉलेजों के तौर पर पंजाब के 2 कालेज शार्टलिस्ट किए गए थे, जिनमें एचएमवी भी शामिल है। उन्होंने कहा कि वातावरण की संभाल करके व सतत विकास की प्रक्रिया को अपनाकर ही उत्कृष्टता को प्राप्त किया जा सकता है। एचएमवी का निरीक्षण करने सितम्बर 2019 में 3 सदस्यीय टीम कैंपस में आई थी। उन्होंने टीचिंग, नान टीचिंग व स्पोर्टिंग स्टाफ को पंजाब के स्वच्छतम कैंपस में से एक कैंपस बनने पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि डीएवी प्रबंधन समिति के शीर्ष मार्गदर्शन के कारण ही यह संभव हो पाया है।