जिलाधिकारी दफ्तर से अजीबो गरीब आदेश, कड़ाके की ठंड में स्कूलों में कर दी ‘लू’ की वजह से छुट्टी

जिलाधिकारी दफ्तर से अजीबो गरीब आदेश, कड़ाके की ठंड में स्कूलों में कर दी ‘लू’ की वजह से छुट्टी

पटना: बिहार के सभी जिले कड़ाके की ठंड का सामना कर रहे हैं। ठंड को देखते हुए स्कूलों की छुट्टियां बढ़ाई जा रही हैं। राज्य का गोपालगंज जिला भी उनमें से एक हैं। लेकिन वहां छुट्टी ठंड की वजह से नहीं बढ़ाई गई है, बल्कि लू की वजह से विद्यालयों में छुट्टी। गोपालगंज जिलाधिकारी के कार्यालय से जो ऑदेश जारी किया गया है उसमें ठंड की जगह लू का जिक्र किया गया है।

अब आइए जानते हैं कि आदेश में क्या लिखा गया है। जिलाधिकारी साहब के आदेश में कहा गया है कि जहां तक उन्हें ज्ञात है जिले में लू की वजह से बच्चों का स्वास्थ्य खतरे में है। इसलिए मैं अरशद अजीज जिलाधिकारी गोपालगंज सीपीसी 1973 की धारा 144 के तहत कक्षा एक से आठ तक के स्कूलों में शैक्षणिक कार्यों पर रोक लगाता हूं। इस आदेश को उनके हस्ताक्षर और मुहर के जरिए 12 जनवरी को लागू किया जाता है। ये बात अलग है कि जब जिलाधिकारी दफ्तर को गलती का अहसास हुआ तो संशोधित आदेश जारी किया गया।

जिलाधिकारी के इस आदेश के बाद चर्चा गरम हो गई कि क्या डीएम अरशद अजीज को ठंड और लू के बीच फर्क नहीं मालूम है क्या। जब इस तरह की जानकारी मिली कि दफ्तर से कुछ गलत आदेश पारित हो गया है तो प्रशासन हरकत में आया और संशोधित आदेश जारी किया गया। ये बात अलग है कि डीएम साहब की जितनी किरकिरी होनी थी वो हो चुकी थी।