महिला को गिरफ्तार करने के एवज में पांच हजार रुपए की रिश्वत लेता ASI रंगे हाथों काबू









बठिंडाः पंजाब विजिलेंस श्री मुक्तसर साहिब की टीम ने आज बठिंडा पुलिस के सम्मन स्टाफ में तैनात एएसआई तेजिन्दर कुमार को पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों काबू किया है। ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि एएसआई को जसविन्दर की शिकायत के बाद पकड़ा गया है।

शिकायतकर्ता ने ब्यूरो को अपनी शिकायत में बताया कि उक्त ए.एस.आई. एक मुकदमे में सम्मन तामील करवा कर दोषी को अदालत में पेश करने के बदले इस हजार रुपए की मांग कर रहा है। शिकायतकर्ता ने कहा कि उसकी तरफ से एएस.आई को पहले ही तीन हजार रुपए अदा किए जा चुके हैं। ब्यूरो की टीम ने आरोपी ए.एस.आई. को रिश्वत लेते हुए मौके पर ही पकड़ लिया। उसके खिलाफ भ्रष्टाचार रोकथाम कानून की विभिन्न धाराओं के अंतर्गत ब्यूरो के थाना बठिंडा में मुकदमा दर्ज करके अगली कार्यवाही आरंभ कर दी है।

जानकारी के मुताबिक, जसविंदर सिंह वालिया नाम के एक शख्स ने एक महिला को घरेलू उपयोग के लिए 2 लाख रुपये दिए थे, लेकिन महिला द्वारा दिए गए चेक बाउंस होने के कारण यह मामला अदालत में चल रहा था। कोर्ट में पेश नहीं होने के कारण महिला के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किए गए और उसे गिरफ्तार करने की ड्यूटी एएसआई तेजिंदर कुमार की लगाई गई।

एएसआई तेजिंदर कुमार ने महिला के गिरफ्तारी के बदले जसविंदर सिंह से 10,000 रुपये की मांग की, जिसके बदले में उसने 3,000 रुपये रिश्वत के रूप में दिए। लेकिन एएसआई ने 5,000 रुपए और मांगे। इसके बाद वादी जसविंदर सिंह ने डीएसपी राज कुमार विजीलैंस ब्यूरो श्री मुक्तसर साहिब के पास अपना बयान दर्ज करवाया। जिसके बाद ब्यूरो ने तजिंदर कुमार को 5,000 रुपये की रिश्वत के साथ रंगे हाथों काबू कर लिया। उसके खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई बनती कार्रवाई शुरु कर दी गई है।



error: Content is protected !!