नेतागिरी की आड़ में एक और कांग्रेस पार्षद की काली करतूत का पर्दाफाश, 1.25 लाख रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार, स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ने दबोचा






जयपुरः भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) मुख्यालय विशेष अनुसंधान इकाई ने जयपुर नगर निगम वार्ड नंबर 39 की पार्षद एवं चेयरमैन महिला उत्थान समिति नगर निगम सुमन गुर्जर को 50 हजार रुपए नगद एवं 75 हजार रुपए की सेल्फ चेक लेते हुए गिरफ्तार किया। एसीबी ट्रेप से पहले पार्षद परिवादी ठेकेदार से 50 हजार रूपए वसूल चुकी थी। वह कुल पौने 2 लाख रूपए मांग रही थी।

एसीबी महानिदेशक आलोक त्रिपाठी ने बताया, परिवादी ने अपनी शिकायत में बताया कि जयपुर नगर निगम वार्ड नंबर 39 में सीसी रोड बनाने के लिए उसे 60 लाख रुपए का वर्क आर्डर मिला था। वार्ड नंबर 39 में सीसी रोड बनाने के कार्य में पार्षद सुमन गुर्जर द्वारा अवरोध उत्पन्न कर परिवादी से उक्त राशि का 3 प्रतिशत के हिसाब से 1.75 हजार रुपए रिश्वत की राशि लेने की मांग की। 50 हजार रुपए रिश्वत के रूप में परिवादी से पूर्व में ही पार्षद द्वारा ले लिए गए थे।

एसीबी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विशेष अनुसंधान इकाई हेमाराम चौधरी के नेतृत्व में एसआईयू यूनिट के निरीक्षक हेमंत वर्मा द्वारा उक्त मांग का सत्यापन किया गया एवं ट्रैप कार्रवाई के दौरान नगर निगम वार्ड नंबर 39 पार्षद सुमन गुर्जर को सवा लाख रुपए की रिश्वत की राशि लेते हुए गिरफ्तार किया गय।

एसीबी की कार्रवाई के बाद प्रदेशाध्यक्ष रेहाना रियाज ने राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव के निर्देशों पर सुमन गुर्जर को पद से हटा दिया।

error: Content is protected !!