मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने फाड़ डाला श्री रामजन्म भूमि का नक्शा, गुस्साए लोगों ने कहा हिन्दू विरोधी गद्दार









– बीजेपी सांसद साक्षी महाराज का दावा- इस तारीख से शुरू हो जाएगा राम मंदिर निर्माण

नई दिल्लीः अयोध्या केस में आखिरी दिन की सुनवाई में वकील राजीव धवन ने नक्शा फाड़ दिया। दरअसल सुनवाई के दौरान अखिल भारतीय हिंदू महासभा के वकील विकास सिंह ने एक किताब का हवाला देना चाहा। मुस्लिम पक्ष के राजीव धवन ने उसे रिकॉर्ड का हिस्सा नहीं बता कर विरोध किया। इसके बाद सिंह ने एक नक्शा रखा। धवन ने इसका भी विरोध करते हुए अपने पास दी गई नक्शे की कॉपी को फाड़ दिया। धवन के इस कदम से सीजेआई बेहद नाराज हो गए।

इस खबर के बाहर आते ही सोशल मीडिया ट्विटर पर “राजीव धवन” ट्रेंड करने लगा। इस ट्रेंड के साथ लोग राजीव धवन की जमकर आलोचना कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि जब मुस्लिम पक्ष के लोगों का मानना है कि ये नक्शा काल्पनिक है, तो फिर इससे उनको क्या फर्क पड़ता है और नक्शा फाड़ा ही क्यों गया। एक यूजर ने तो राजीव धवन को हिन्दू विरोधी गद्दार बता दिया। सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि 1810 का नक्शा जिसमें तीन गुम्बद के नीचे राममंदिर लिखा है।

Image result for sakshi maharaj

6 दिसंबर को शुरु होगा राम मंदिर निर्माणः साक्षी महाराज
वहीं बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने राम मंदिर निर्माण को लेकर बड़ा बयान दिया है। भारतीय जनता पार्टी के सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि अयोध्या में छह दिसंबर से राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा। बता दें कि 1992 में छह दिसंबर को ही बाबरी मस्जिद को ध्वस्त कर दिया गया था।

साक्षी महाराज ने कहा, ‘यह तर्कसंगत है कि मंदिर का निर्माण उसी तारीख को शुरू होना चाहिए, जब ढांचा गिराया गया था।’ साक्षी महाराज ने उन्नाव में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा, ‘यह सपना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रयासों के कारण साकार होने जा रहा है।’ उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण में मदद के लिए हिंदू और मुस्लिमों को एक साथ आना चाहिए।

error: Content is protected !!