किसान की पत्नी का 1.50 लाख का मंगलसूत्र निगल गया बैल, फिर 8 दिन बाद ऐसा मिला वापस






नई दिल्लीः महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में मनाए जाने वाले पोला के त्योहार के दौरान एक अजीब वाक्या सामने आया है। पहले तो बता दें इस त्योहार में किसान बैलों की पूजा करते है और घर के सदस्य बैल के सामने अपने सभी सोने-चांदी के आभूषण रखकर बैल से सुख-समृद्धि की प्रार्थना करते हैं। लेकिन महाराष्ट्र के अहमदनगर के रायटे वाघपुर गांव में यह पूजा एक परिवार के लिए उस वक्त चिंता का कारण बन गई, जब महिला का डेढ़ लाख का मंगलसूत्र गायब हो गया।

दरअसल, हुआ यूं कि, पोला पूजा के दौरान बाबूराव शिंदे की पत्नी रिवाजों के मुताबिक बैल की पूजा कर रही थीं, इसी दौरान शिंदे की पत्नी ने पूजा की विधि पूरी करने के लिए अपना डेढ़ लाख का मंगलसूत्र बैल के सिर पर लगाना था, लेकिन भूल से उसने मंगलसूत्र को पुए की उस थाल में रख दिया, जिसमें उसे बैल को भोग लगाना था।

इसी बीच लाइट चली गई और बाबूराव की पत्नी मोमबत्ती लेने के लिए घर के अंदर चली गई। लेकिन जब वह लौटी तो देखा की भोग वाली थाल से मंगलसूत्र और पुए (मीठी चपाती) गायब हैं। प्लेट से मंगलसूत्र गायब देखकर वह हैरान रह गई और अपने पति को आवाज दी। दोनों ने देखा कि मंगलसूत्र बैल चबा रहा है। इस पर दोनों ने काफी कोशिश की कि, वह मंगलसूत्र को बैल के चंगुल से छुड़ा लें, लेकिन वह इसमें नाकामयाब रहे।

इसके बाद दोनों पति-पत्नी हर रोज बैल के गोबर में मंगलसूत्र की तलाश करते रहे, लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिला। इसके बाद दोनों ने फैसला किया कि वह मंगलसूत्र के लिए पशु चिकित्सक की मदद लेगें और वह बैल को लेकर पशु चिकित्सक के पास पहुंचे। जहां, डॉक्टर ने जरूरी परीक्षण किए और ऑपरेशन करने का फैसला किया। फिर ऑपरेशन के जरिए मंगलसूत्र बैल के शरीर से बाहर निकाल लिया। डॉक्टर ने बताया कि मंगलसूत्र बैल के पेट में फंस गया था, लेकिन ऑपरेशन के बाद इसे बाहर निकाल लिया गया है। बैल अब ठीक हो रहा है।

error: Content is protected !!