अमृतसर में संत निरंकारी सत्संग भवन में आंतकी हमला, तीन की मौत 12 जख्मी,तीन की हालत गम्भीर






अमृतसर (राजीव/प्रिंस) संत निरंकारी सत्संग भवन आज सवेरे आंतकी धमाका से दहल उठा।
भवन में सत्संग श्रवण कर रहे लगभग 100 लोगों पर मोटर साईकल पर सवार होकर आये 2 आतंकवादियों की तरफ से बम फेंक कर हमला किया गया है
इस आंतकी हमले ने 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है। 12 लोग जख्मी हुए है । तीन की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। हालांकि मौके पर मौजूद लोगों का कहना है कि मरने और घायल होने वालों की संख्या ज्यादा हो सकती है।घायल लोगों को अमृतसर के आई वी वाई अस्पताल में दाखिल करवाया गया है।

हाई अलर्ट होने के बावजूद पुलिस प्रशासन लोगों की सुरक्षा को गम्भीरता से नही ले पा रहा।
कैप्टन सरकार के राज में पुलिस पंजाब की सुरक्षा करने में फेल साबित हो रही है।
उल्लेखनीय है कि पंजाब बीते कुछ दिनों से हाईअलर्ट पर चल रहा था, साथ ही खूफिया एजेंसियों ने भीड़-भाड़ वाले इलाकों और धार्मिक स्थलों पर हमले की सूचना देते हुए पुलिस प्रशासन को अलर्ट किया था। लेकिन इसके बावजूद यह धमाका राज्य की सुरक्षा व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़ा कर रहा है। बता दें कि हाल ही में जम्मू कश्मीर के खूंखार आतंकी जाकिर मूसा के पंजाब में देखे जाने की खबर आयी थी। जिसके बाद पुलिस जगह जगह चेकिंग और छापेमारी कर रही थी। अमृतसर में बम धमाके के बाद दिल्ली को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

दरअसल रविवार के दिन निरंकारी भवन में धार्मिक समागम का कार्यक्रम होता है, जिसके चलते यहां रविवार को काफी भीड़ होती है। जिस जगह यह धमाका हुआ, वह अमृतसर का बाहरी ग्रामीण इलाका है, जहां सीसीटीवी कैमरे नहीं है, जिसके चलते संदिग्धों की पहचान अभी तक नहीं हो पायी है।

आप को बता दें कि संत निरंकारी पंथ के प्रति खालिस्तान आंतकियों में पहले से ही बेहद नफरत का जहर भरा पड़ा है। इस हमले के तार खालिस्तान आंतकियों से जुड़े होने की संभावना देखी जा रही है।

error: Content is protected !!